तेरे नसीली इन आंखो मे आपना पन हमारा लगता है

तेरे नसीली इन आंखो मे आपना पन हमारा लगता है


देखो तो यह सुबह का मौसम कितना प्यारा लगता है


भोली तेरी इन आंखो को मुझे प्यार का प्यासा लगता है


देखो तो यह सुबह का मौसम कितना प्यारा लगता है

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

सुकुन मुझे नही आती है जब आप उदास

मन मंदिर में तेरा सुरत हदय बसे है तेरा नाम

जब उदासी हो मेरे मोहब्बत के चेहरे पर परमात्मा सहारा तेरा हो